हिंदस्तान की आज़ादी से पूर्व एक दौर था कि महिलाओ को समाज उनके पति की मृतयु होने पर उनके साथ ही जिंदा जल कर सती होने पड़ता था,इसे सतीप्रथा का नाम दिया गया था। महिलाओ के लिए आवाज उठाकर राजाराम मोहन राय सामने आकर इस प्रथा को खत्म किया और महिलाओ के हित के बारे में एक सार्थक प्रयास किया जो सफल रहा जिससे सती प्रथा का अंत हो गया।
वर्तमान समय मे सुनील चौधरी जो सामाजिक कार्यकर्ता होने के साथ साथ माननीय उच्चन्यायालय इलाहाबाद में अधिवक्ता है।ज्योति वेलफेयर सोसायटी(रजिस्टर्ड) उत्तरप्रदेश संस्था के बैनर तले महिलाओ के उद्धार की लड़ाई लड़ रहे है।

मानव तस्करी एवं बच्चो के प्रति यौन अपराध(वैष्यावृति) के विरुद्ध पिछले 7 साल से आंदोलन चला रहे है जिसके परिणाम स्वरूप आज़ादी के पूर्व से चल रहे प्रयागराज की पावन धरती को कलंकित करने वाले रेड लाइट एरिया मीरगंज में 17 कोठो को बन्द कराकर 120 महिलाओ ,बच्चो को मुक्त कराया।आप सभी को अवगत हो कि 77 मीरगंज देश के प्रथम प्रधान मंत्री पंडित नेहरू जी की जन्मस्थली भी रही है जिसको जिला प्रशासन ने चिन्हित भी किया और इस छेत्र के विकाश व छेत्र को रास्ट्रीय धरोहर घोषित करने के लिए भी श्री चौधरी लड़ाई लड़ रहे है।इस आंदोलन में श्री चौधरी को दलालो ने जान से मारने की धमकी भी दी थी और जिला प्रशासन ने दलालो ,नेताओ से मिलकर आंदोलन को दबाने के लिए मारपीट कर जेल भी भेज दिया था।

*मानवतस्करी व वैष्यावृति बंद कराने की अगली कड़ी में सुनील चौधरी उत्तरप्रदेश में चल रहे सभी रेड लाइट एरिया को बन्द कराये जाने के लिए हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की। मेरठ जिले के कबाड़ी बाजार रेड लाइट एरिया से 400 नाबालिक /बालिग लड़कियों को मुफ्त करवा कर 57 कोठो को सील किया गया और साथ ही प्रदेश के अन्य जिले वाराणसी, आगरा ,बस्ती ,अलीगढ़,सहारनपुर, गाजीपुर, बलिया, जौनपुर, मऊ, कानपुर आदि जिलो में चल रहे रेड लाइट एरिया को बंद कराये जाने के लिए भी प्रदेश सरकार ने संज्ञान लिया है।*

*प्रयागराज जिलाधिकारी भानु गोस्वामी व्यक्ति कारणों से मा.उच्च न्यायालय के 3 बार आदेश के बावजूद सुनील के परिवार को सुरछा नही दे रहे है*
मा उच्चन्यायालय ने आदेश दिया कि दलालो के द्वारा धमकी व जान से मारने की साजिश होने की आसंका पर अधिवक्ता सुनील चौधरी के परीवार व उनको तत्काल सुरछा प्रदान करे लेकिन जिलाधिकारी प्रयागराज भानु गोस्वामी व एसएसपी अतुल शर्मा के खिलाफ याचिका दाखिल किए जाने के कारण व्यक्ति कारणों से सुरछा नही दे रहे है ,याचिका में आरोप लगाया गया कि ये लोग ट्रकों से वसूली करवाते है और लोगो से गाली गलौच, बदतमीजी भी करते है जिसमे एक नैनी इंस्पेक्टर विनोद कुमार सिंह भी शामिल है ।

*सुनील चौधरी ने RTI के द्वारा खुलासा किया है कि देश के अन्य राज्यो में भी रेड लाइट एरिया चल रहा है जिसको बन्द कराने के लिए प्रयाश जारी है। महाराष्ट्र के नागपुर जिले में गंगा यमुना नाम से रेड लाइट एरिया है जहाँ मानवतस्करी कर लाई गई लड़कियों से जबरन देह व्यापार पुलिस और दलालो के द्वारा कराया जाता है* ।
*देश की राजधानी दिल्ली में भी है 130 कोठे…*
दिल्ली के GB रोड रेड लाइट एरिया में 130 कोठो पर 2000 से ज्यादा नाबालिग/ बालिग लड़कियों को जबरन कैद कर पुलिस की मिलीभगत से देहव्यापार चल रहा है ।श्री चौधरी का कहना है कि जल्द ही इन कोठो पर लगेंगे ताले और 2000 से ज्यादा लड़कियों को मुक्त करा कर समाज की मुख्य धारा में जोड़ा जाएगा।

सुनील चौधरी,अधिवक्ता उच्चन्यायालय इलाहाबाद*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *