महासमुँद — वृद्धाश्रम किसी भी समाज के मंदिर से बढ़कर होता है।जिन वृद्ध लोगों का देख-रेख करने वाला कोई नहीं है उनके लिये इस वृद्धाश्रम की व्यवस्था की गयी है। वृद्ध माता-पिता की सेवा करना हम सब की जिम्मेदारी है। वृद्धाश्रम उन वरिष्ठ नागरिकों के लिये होते है जो अपने परिवारों के साथ नहीं रहते अथवा निराश्रित होते है। ऐसे लोगों को वृद्धाश्रम के माध्यम से सुरक्षित आश्रय उपलब्ध कराया जायेगा।
उक्त बातें आज उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने महासमुँद प्रवास के दौरान जिला मुख्यालय के वार्ड क्रमाँक 11 में 32 लाख रूपये से अधिक की लागत से बने सर्वसुविधायुक्त नवनिर्मित वृद्धाश्रम के लोकार्पण अवसर पर कही । इस अवसर पर महासमुंद के विधायक विनोद चन्द्राकर, बसना विधायक देवेन्द्र बहादुर सिंह, खल्लारी विधायक द्वारिकाधीश यादव, महासमुंद नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष पवन पटेल, नगर पालिका परिषद उपाध्यक्ष कौशिल्या बंसल, पूर्व विधायक डॉ. विमल चोपड़ा, कलेक्टर सुनील कुमार जैन, पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह, मुख्य नगर पालिका अधिकारी प्रीति सिंह सहित जनप्रतिनिधि, पार्षदगण, गणमान्य नागरिक, अधिकारी-कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे। कार्यक्रम के उपरांत वृद्धाश्रम प्रांगण में अतिथियों द्वारा पौधरोपण भी किया गया।

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *