रायपुर – प्रदेश के सभी पंचायतों में कल से ग्रामसभा का आयोजन होगा। ग्राम सभा मे मुख्य रूप से कृषि, स्वास्थ्य, पेयजल के अलावा पोषण और योजनाओं के क्रियान्वयन पर ग्रामीण चर्चा करेंगे।चर्चा के बाद ग्रामीण ग्राम विकास की योजनाओं के प्रस्ताव लाकर ग्राम सभा में पास करेंगे इसमें मुख्य रूप ग्रामीण विकास के मुद्दे शामिल होंगे। पंचायत विभाग ने सभी कलेक्टरों को इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किया है। कलेक्टरों को जनपद पंचायतवार सभी गांवों में ग्रामसभा के आयोजन के लिये समय-सारिणी निर्धारित करने के निर्देश दिये गये हैैं।ग्रामसभा के लिये अलग-अलग तिथि सुनिश्चित करने कहा गया है जिससे सरपंच और सचिव सभी आश्रित गांवों की ग्रामसभा में शामिल हो सके. इसे सफल बनाने के लिये स्थानीय स्तर पर अधिकारियों-कर्मचारियों की विशेष जिम्मेदारी तय करने के भी निर्देश दिये गये हैं। ग्रामसभा में पिछली बैठकों में पारित संकल्पों के क्रियान्वयन संबंधी पालन प्रतिवेदन, पंचायत द्वारा अधिरोपित कर की वसूली व बकाया सूची तथा परिसंपत्तियों के निर्माण से संबंधित कार्यों व आय-व्यय का वाचन कर सामाजिक अंकेक्षण किया जायेगा। पेंशन योजनाओं के सामाजिक अंकेक्षण और हितग्राही सत्यापन तथा साप्ताहिक बाजार, मवेशी बाजार व कांजी हाउस संचालन की समीक्षा की जायेगी। साथ ही श्रद्धांजलि योजना के लिये पात्रता एवं इससे मिलने वाले लाभ की जानकारी लोगों को दी जायेगी। ग्रामसभा में विभिन्न विभागों द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा के साथ ही गांव में कृषि, स्वास्थ्य, पेयजल, पोषण और बाल संरक्षण जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की जायेगी। मच्छर नियंत्रण के लिये साफ-सफाई व्यवस्था, शुद्ध पेयजल के लिये नलकूपों के संधारण और जल स्रोतों के संरक्षण के उपाय पर भी ग्रामीण चर्चा करेंगे।

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *