नई दिल्ली– नव निर्वाचित लोकसभा के पहले सत्र से एक दिन आज सर्वदलीय बैठक हुई। सरकार इस सत्र में महत्वपूर्ण विधेयकों को पारित कराने के लिए विपक्ष का सहयोग माँगा गया। इन विधेयकों में तीन तलाक विधेयक भी है, जिसे केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले बुधवार को मंजूरी दी। सदन में भाजपा की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के पास 545 सीटों वाली लोकसभा में 353 सदस्य हैं लेकिन 245 सीटों वाली राज्यसभा में सिर्फ 102 सदस्य हैं। यह सत्र 26 जुलाई को समाप्त होगा। तीन तलाक के अलावा सदन में पेश किये जाने वाले विधेयकों में केंद्रीय शैक्षणिक संस्थान (शिक्षक संवर्ग में आरक्षण) विधेयक, 2019 और आधार और अन्य कानून (संशोधन) विधेयक 2019 शामिल हैं। मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक तीन तलाक (तलाक-ए-बिद्दत) को दंडनीय अपराध बनाता है। इस विधेयक को लेकर विपक्षी दलों की आपत्तियों का सामना करना पड़ा था। आर्थिक सर्वेक्षण 4 जुलाई और बजट 5 जुलाई को पेश किया जायेगा।

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *