कानपुर प्रेस क्लब ,ऑल जर्नलिस्ट प्रेस कौंसिल अपने साथी पत्रकार की हत्या की कड़ी निंदा करता है और विरोध स्वरूप कल राज्यपाल और मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को दिया दिन प्रति दिन पत्रकारों पर हमले । मर्डर आखिर ये क्या हो रहा है क्या हम शासन प्रशासन के समाचार या उनकी चाटुकारिता के लिए हैं ।ये शासन प्रशासन ने हमे समझ क्या लिया है ।मूली गाजर हैं हम ।जो चाहे पीट दे ।मार दे ।चाहे किसी को जेल में डाल दें ।आज से सभी समाचार चाहे शासन के हों चाहे प्रशासन के हो ।न तो शोशल मीडिया पर चलेंगे ओर न ही किसी अखबार में । इस स्ट्राइक का आगाज करें ।दो दिन पूर्व कानपुर में पत्रकार पर जानलेवा हमला हुआ आज सहारनपुर में मर्डर की इतनी बड़ी घटना । हमें नहीं छापनी उस पुलिस की फोटो जो साईकल पकड़ने की भी फोटो छपवाना चाहते हैं ।आज शासन प्रशासन को अहसास कराना होगा ।मैं इनके खिलाफ लिखूँगा ।देखता हूँ मुझे को जेल में डालता है ।अब बर्दाश्त से बाहर हो गया है पत्रकार संगठनों से अपील सभी संगठन अपने अपने स्तर से अपना आक्रोश प्रकट करें ।सरकार को चेतावनी देने से न चूकें इस घटना का प्रत्येक पत्रकार की अपनी अभिव्यक्ति ओर आक्रोश को “न” सिर्फ पढ़ें बल्कि आपके मोबाइल में जितने ग्रुप है फारवर्ड करते चले जायें ।इस सूचना के अलावा किसी और सूचना पर ज्यादा फोकस न करें ।चौबीस घन्टे इसी से सम्बंधित सूचना सोशल मीडिया पर भी छाई रहनी चाहिये । सब लोग एक्टिव रहें ।इस घटना को ही इतना आक्रोश भरा कर दें कि मुख्यमंत्री या सरकार को सुरक्षा कानून बनाने की मजबूरी हो जाये ।लम्बी लड़ाई लड़ने की ठान लो अगर अब आलस कर गए तो हम मिट्टी में मिल जाये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *