गरियाबंद – गरियाबंद जिले में स्थित शासकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज विगत कई वर्षों से आईटीआई की बिल्डिंग पर किराया में संचालित हो रही है । पॉलिटेक्निक कॉलेज छोटी सी जगह में संचालित होने की वजह से छात्रों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है । छात्रों ने बताया कि वर्तमान बिल्डिंग में कक्षाओं की समुचित व्यवस्था नहीं है साथ ही साथ पर टेक्निकल फील्ड होने की वजह से प्रयोगशालाओं की आवश्यकता सभी ब्रांच के विद्यार्थियों को पड़ती है ।
गौरतलब है कि नवीन विद्यालय बनकर तैयार है छात्रों ने पूर्व में कॉलेज शिफ्टिंग की मांग संस्था से की तो अगले सत्र में शिफ्टिंग की बात कही गयी । इनके आलवा पॉलीटेक्निक में माइनिंग ब्राँच में गैस चैंबर की माँग शुरुवात से ही रही है स्वयं की बिल्डिंग नहीं होने से यहां गैस चैंबर निर्मित नहीं की जा रही थी लेकिन अब बिल्डिंग तैयार हो जाने से छात्रों को उम्मीद है कि कॉलेज से ही माइनिंग ब्राच के छात्रों को लैंप हैंडलिंग की प्रदान कि जावे । प्रदेश में सिर्फ तीन ही माइनिंग कॉलेज में माइनिंग की ब्रांच उपलब्ध है जिसमे गरियाबंद को छोड़कर सभी जगह लैंप हैंडलिंग सर्टिफिकेट की सुविधा है । छात्रों की मांग है कि उनको भी कॉलेज से लैंप हैंडलिंग की सुविधा मिले।माइनिंग ब्रांच में अध्ययनरत छात्र नेता भुनेश्वर सिन्हा ने कहा है कि छात्रों की सुविधा के लिये व माइनिंग ब्रांच हेतु गैस चैंबर लगाने की मांग संस्था से की जा रही है। व छात्रों की सुविधा व मांगो को लेकर उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल को भी इन मामलों से अवगत करवाया जायेगा ताकि सभी विद्यार्थियों को राहत मिल सके।

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *