नई दिल्ली — प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जापान में आज भारतीयों को संबोधित करते हुये कहा कि सात महीने बाद मुझे दुबारा जापान की धरती में आने का मौका मिला। इस बार मैं तब आया हूँ जब दुनियाँ के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत ने इस प्रधान सेवक पर पहले से ज्यादा प्यार और विश्वास जताया है। 130 करोड़ भारतीयों ने पहले से भी मजबूत सरकार बनायी है। मोदी ने कहा कि 1971 के बाद देश ने पहली बार एक सरकार को प्रो इंकम्बेंसी जनादेश दिया है। ये जीत सच्चाई की जीत है, भारत के लोकतंत्र की जीत है।लोकतंत्र के प्रति भारत के सामान्य जन की निष्ठा अटूट है। भारत की आशाओं और आकांक्षाओं को पूरा करने के लिये हमें ये जनादेश मिला है। पीएम ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के जिस मंत्र पर हम चल रहे हैं, वो भारत पर दुनियाँ के विश्वास को भी मजबूत करेगा। जब दुनिया के साथ भारत के रिश्तों की बात आती है तो जापान का उसमें एक अहम स्थान है। ये रिश्ते आज के नहीं हैं, बल्कि सदियों के हैं। इनके मूल में आत्मीयता है, सद्भावना है, एक दूसरे की संस्कृति और सभ्यता के लिये सम्मान है।

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *