रायपुर — पत्रकार की सुरक्षा ही सरकार की सुरक्षा है। पत्रकारों की हर दुख में सरकार आपके साथ है क्योंकि पत्रकार समाज हितैषी है। पत्रकारों का कार्य बहुत ही संघर्ष और चुनौतीपूर्ण होता है। समाज को जागरूक करने सहित नवीन विचारधारा तथा देश के नव-निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान होता है। उन्होंने कहा कि घटना की जानकारी की तत्परता से उपलब्धता के लिये पत्रकारों को कठिन से कठिन परिस्थिति में कार्य करना पड़ता है। झीरम कांड जैसे घटनास्थल से पल-पल की खबरें शीघ्रता से लेकर पूरे समाज को अवगत कराने में इनका महत्वपूर्ण योगदान होता है।
मुख्यमंत्री बघेल राजधानी रायपुर के वीआईपी रोड अग्रसेन धाम में आयोजित छत्तीसगढ़ जर्नलिस्ट यूनियन एवं इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट की दो दिवसीय राष्ट्रीय पत्रकार सम्मेलन का दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया । इसके पश्चात मुख्य अतिथि की आसंदी से बोलते हुये मुख्यमंत्री श्री बघेल ने आगे कहा कि प्रदेश में पत्रकारों के हित में राज्य सरकार द्वारा वर्तमान में अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये हैं। इनमें पत्रकारों की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुये पत्रकार सुरक्षा कानून के लिये समिति गठित कर दी गयी है। इसी तरह इनके सम्माननिधि में भी बढ़ोत्तरी कर दी गई है। इसके तहत वरिष्ठ मीडियाकर्मी को प्रतिमाह 05 हजार से बढ़ाकर दस हजार रूपये किया गया है। यह राशि पहले पांच वर्ष के लिये थी लेकिन इसे अब आजीवन कर दिया गया है। सम्माननिधि के लिये पहले न्यूनतम आयु 62 वर्ष थी अब इसे भी घटाकर 60 वर्ष कर दी गयी है। इसके अलावा पत्रकारों को स्वयं अथवा उनके आश्रित परिवार के सदस्यों की बीमारियों के ईलाज के लिए दी जाने वाली न्यूनतम राशि पाँच हजार से बढ़ाकर दस हजार रूपये और अधिकतम राशि 50 हजार से बढ़ाकर दो लाख रूपये कर दी गयी है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने यह भी बताया कि प्रदेश में अब राज्य तथा जिला स्तर ही नहीं अपितु ब्लॉक स्तर पर भी पत्रकारों की अधिमान्यता का प्रावधान किया गया है।
इस मौके पर उन्होंने छत्तीसगढ़ जर्नलिस्ट यूनियन द्वारा प्रदत्त गणेश शंकर विद्यार्थी पत्रकारिता अलंकरण से रायपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष श्री दामू आम्बेडारे को सम्मानित किया गया। इसके साथ ही संघ की ओर से सामाजिक समरसता, नारी सशक्तिकरण और पर्यावरण चेतना आदि के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले लोगों को भी इस अवसर पर सम्मानित किया गया। राजधानी रायपुर में आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय पत्रकार सम्मेलन में छत्तीसगढ़ के अलावा देश के अन्य प्रांतों से भी पत्रकार बड़ी संख्या में शामिल हुये है। सम्मेलन में स्वागत भाषण इंडियन फेडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट के महासचिव श्री परमानन्द पाण्डेय ने दिया। इस अवसर पर संघ के पदाधिकारी श्री ईश्वर दुबे, श्री सतीश बौद्ध, श्री मल्लिकार्जुन, श्री मनीष चौबे, श्री संजय दुबे, श्री पवन बंजारे सहित पत्रकार बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *