नई दिल्ली — प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने छत्तीसगढ़ के सभी सरपंचों के नाम राज्य सरकार को पत्र भेजा है। पत्र में जल संवर्धन, संरक्षण के साथ-साथ पर्यावरण को बचाने की बात कही गयी है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि राज्य के साथ-साथ देश में घटते जल स्तर, जल संकट और जलवायु परिवर्तन चिंता की एक बड़ी वजह बन चुकी है। सभी सरपंचों को लिखे पत्र में पीएम मोदी ने गांव में सभी लोगों को पत्र पढ़कर सुनाने आग्रह भी किया है। पीएम के पत्र को प्रदेश के सभी सीईओ को भेजा गया है।
गौरतलब है कि प्रदेश के चौदह हजार 884 हैण्डपम्प सूख गये हैं। और 516 गांवो में पानी की विकराल समस्या है, जहां जल संकट का खतरा मंडरा रहा है।इस समस्या को दूर करने के लिए उचित कदम उठाने की बात कही गई है।

केन्द्र और राज्य सरकार मिलकर करेंगे काम — सिंहदेव

छत्तीसगढ़ के मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि जल व पर्यावरण को लेकर सामने आ रहे संकट पर राज्य सरकार पहले से ही सचेत है और काम कर रही है। अब यदि पीएम ने भी इस पर चिंता जतायी है तो ये अच्छी पहल है। केन्द्र और राज्य सरकार मिलकर इस समस्या का समाधान करने में सफल होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *