एक आरटीआई के जवाब में रेल मंत्रालय ने कहा है कि पिछले एक दशक में चोरी के सबसे अधिक 36,584 मामले 2018

2017 में चोरी के 33,044

2016 में 22,106

2015 में 19,215

2014 में 14,301

2013 में 12,26

2012 में 9,292,

2011 में 9,653

2010 में 7,549

2009 में 7,010 मामले दर्ज हुए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *