रायपुर — मुख्य सचिव सुनील कुजूर ने आज यहां मंत्रालय में विधानसभा सत्र के पूर्व तैयारियों के संबंध में समीक्षा बैठक की । गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ विधानसभा का सत्र आगामी 12 जुलाई से 19 जुलाई तक आयोजित होगा। इस दौरान पंचायत एवं विकास विभाग, गृह विभाग, वित्त विभाग, उच्च शिक्षा विभाग और नगरीय प्रशासन विभाग के सात विधेयकों को संशोधन के लिये प्रस्तुत किए जायेंगे। मुख्य सचिव ने इस संबंध में सभी प्रक्रिया समय पूर्व पूर्ण करने के निर्देश दिये है। विधानसभा सत्र के दौरान शासकीय अधिकारियों-कर्मचारियों के अवकाश पर (अपरिहार्य स्थिति को छोड़कर) रोक लगा दी गयी है। उन्होंने प्रत्येक विभागों विधानसभा प्रकोष्ठ का गठन करने और नोडल अधिकारियों की तैनाती के निर्देश दिये है।

सत्र के दौरान होने वाले चर्चा के संभावित विषयों की समस्त जानकारियां संकलित करने के भी निर्देश दिये गये है। मुख्य सचिव ने विधानसभा सत्र की कार्रवाई के दौरान विभागीय वरिष्ठ अधिकारियों को अनिवार्य रूप से उपस्थित होने कहा है। विधानसभा सत्र के दौरान कानून एवं शांति व्यवस्था बनायें रखने के निर्देश दिये गये है। बैठक में अपर मुख्य सचिव सर्वश्री के.डी.पी. राव, सी.के. खेतान, आर.पी. मण्डल, प्रमुख सचिव सर्वश्री रविशंकर शर्मा, मनोज कुमार पिंगवा, गौरव द्विवेदी, सचिव सर्वश्री सुबोध सिंह, परदेशी सिद्धार्थ कोमल, श्रीमती निहारिका बारिक, सुश्री शहला निगार, सुरेन्द्र जायसवाल, डी.डी. सिंह, डॉ. कमलप्रीत सिंह, हेमंत पहारे, श्रीमती रीना बाबा साहेब कंगाले, अविनाश चम्पावत, सुश्री रीता शांडिल्य, विशेष सचिव श्री मुकेश कुमार बंसल, अन्बलगन पी., पुलिस विभाग के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री अशोक जुनेजा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *