रायपुर — पंचांग की गणना के अनुसार अगस्त महीने की शुरुआत बहुत ही शुभ तिथि और शुभ संयोग से होने जा रही है। आज एक अगस्त को हरियाली अमावस्या पर पंच महायोग का शुभ योग बना है। यह पंच महायोग लगभग 125 साल बाद बन रहा है। इन पंच महायोग में पहला हरियाली अमावस्या का शुभ योग, दूसरा सर्वार्थ सिद्धि योग, तीसरा सिद्धि योग, चौथा अमृत सिद्धि योग, पांचवा गुरु पुष्यामृत योग रहेगा। ग्रंथों अनुसार पंच महायोग बनने से इस दिन भगवान शंकर और माता पार्वती सहित अन्य देवी-देवताओं की पूजा-अर्चना करने हर तरह की मनोकामना का पूर्ति होती है।आज गुरु पुष्यामृत शुभ योग करीब 06 घंटे का तक रहेगा। इस योग को बहुत कल्याणकारी और शुभफलदायी माना जाता है।हरियाली अमावस्या पर माता पार्वती और भगवान शिव की पूजा करने से माता की कृपा बनी रहती है और वह अपनी भक्तों की हर मनोकामनायें पूरी करती है। साथ ही कुँवारी महिलायें हरियाली अमावस्या पर व्रत रखती हैं तो उन्हें मनचाहा वर मिलता है। इसके अलावा सुहागिन महिलाओं का सुहाग हमेशा सलामत बना रहता है। यही वजह है कि इस दिन विवाहित स्त्री और अविवाहित कन्या दोनों व्रत रखकर मां पार्वती का पूजन करती हैं।हरियाली अमावस्या का त्योहार पर्यावरण से भी जुड़ा है। यह त्योहार प्रकृति की पूजा और पौधारोपण के महत्व को बताता है। इस पेड़- पौधे की विशेष पूजा अर्चना की जाती है।

भारतसत्य चैनल की ओर से सभी पाठकों को शुभकामनायें

हिंदी पंचांग के अनुसार वर्ष के प्रथम कृषक हरेली त्यौहार के पावन अवसर पर भारतसत्यचैनल के अरविन्द तिवारी ने सभी पाठकों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनायें देते हुये सभी के उज्जवल भविष्य के लिये प्रार्थना किया है ।

आभार

रुद्र भारतसत्य मुख्य संपादक

कौशल धनकर डिरेक्टर एंड एडिटर

अरविन्द तिवारी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *