विश्व बाजार में 4% ग्लोबल आयल सप्लाई बाज़ार से वापिस ले ली गई है जिस वजह से भाव विश्व बाद गया ।

भारत में जैसे ही वोटिंग 19 को खत्म होगी तेल के भाव बड़ जाएंगे ।US ने 2 मई को ईरान से तेल लेने से पाबंदी लगा दी जो तेल एडवांस में लिया गया था वो खत्म होने है ।

ईरान से कुल 4% मार्किट ने सप्लाई वापिस ली जिनमे 8वें देश भारत है जो ईरान से 10% कुल खपत का तेल लेता है ।

52.40 डॉलर प्रति बैरल से 70.70 डॉलर 3 मई को होगया था अगर ईरान और अमेरिका पश्चिम एशिया में टकराव होता है तो तेल के भाव बड़ेगे ।

भारत में लोकसभा के चुनाव की वजह से भाव स्थिर हैं 19 मई आखरी वोटिंग के बाद भाव बड़ने के असार हैं ।

15-16 में 202.9 मिलियन टन जो 65.6 बिलियन डॉलर लिया था वही 18-19 में 226.6 मिलियन टन वही 114.2 बिलियन डॉलर का होगा गौरतलब है अब महंगा खरीद कर सस्ता तो सरकार देगी नही ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *