शोधकर्ताओं ने भारत को चेताया है कि 2040 तक पीने का पानी खत्म हो जायगा भारत में इसका मूल कारण जंगल पेड़ और पानी के स्रोत खत्म होते जा रहे है

जितना हम धरती के साथ मेहनत कम करेंगे धरती को सीमेंट से सवांरते रहेंगे पेड़ काट के और वातावरण को AC द्वारा अपने सुविधा अनुसार ठंडा करते रहेंगे बाहर उतना जानलेवा गर्म होता जाएगा ।

प्रकृतिक सर्दी गर्मी मनुष्य के अनुरूप हो तो शरीर ठंड और गर्म झेलने के तैयार रहता है लेकिन इसी को अप्रकृतिक तरीके से ठंडा गर्म करेगें तो वातावरण में विपरीत प्रभाव पड़ता है ।

स्मार्ट शहर बनाने के चक्कर में हरे भरे जंगल पेड़ काट के कंक्रीट सीमेंट का जंगल खड़ा कर दिया अब इसका विपरीत प्राकृतिक प्रभाव हमारे बच्चे आज से 20 साल बाद झेले गे पढ़ कर क्या करंगे जब प्यासे मर जाएंगे

पानी का संरक्षण पेड़ लगाने और पानी के श्रोतो को जिंदा करना बहुत आवश्यक है बचपन अगर जिंदा रखना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *